GNM or BSC Nursing which is better in Hindi

GNM or BSC Nursing which is better in Hindi :- हेलो फ्रेंड्स आप 12th स्टैंडर्ड पास है और आप सोच रहे हैं अपना करियर बनाने के लिए मेडिकल सेक्टर के अंदर और कंफ्यूज हैं कि आप GNM का कोर्स करें या Bsc Nursing करें तो आज का यह आर्टिकल आपके लिए है। आज के इस आर्टिकल के अंदर हम आपको बताने वाले हैं, दोनों ही कोर्सेज के बारे में कुछ-कुछ पॉइंट्स जिससे आप यह डिसाइड कर पाएंगे कि आपके लिए कौन सा कोर्स सही होगा तो इस आर्टिकल को आप पूरा अंत तक जरूर पढ़िए।

GNM or BSC Nursing which is better in Hindi

GNM or BSC Nursing दोनों ही कोर्स नर्सिंग क्षेत्र में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है। जीएनएम (GNM) का फुल फॉर्म “जनरल नर्सिंग और मिडवाइफरी” (General Nursing and Midwifery) होता है। और बीएससी (Bsc) नर्सिंग बैचलर ऑफ साइंस इन नर्सिंग। दोनों पाठ्यक्रमों के अपने-अपने लाभ और विशेषताएँ हैं।

जीएनएम (जनरल नर्सिंग एंड मिडवाइफरी) :-

जनरल नर्सिंग और मिडवाइफरी यह एक डिप्लोमा लेवल का कोर्स होता है।

पाठ्यक्रम की अवधि :-

इस कोर्स का अवधि 3 साल 6 महीने का होता है और इस कोर्स को करने के बाद यह आवश्यक होता है कि आप 6 महीने का काम से कम इंटर्नशिप भी करें।

पात्रता :-

12th स्टैंडर्ड पास होना चाहिए किसी भी स्ट्रीम (Stream) में और किसी भी बोर्ड से और 12th में आपका काम से कम 40% मार्क्स होना चाहिए इंग्लिश सब्जेक्ट में। कुछ कॉलेज में आयु सीमा भी मांगी जाती है कम से कम 17 वर्ष होना चाहिए और ज्यादा से ज्यादा 35 वर्ष होना चाहिए।

जीएनएम कोर्स पूरा होने के बाद :-

जीएनएम कोर्स पूरा होने के बाद, आप अस्पतालों, क्लीनिकों, नर्सिंग होम्स, और अन्य स्वास्थ्य सेवा संस्थानों में स्टाफ नर्स, सामुदायिक स्वास्थ्य नर्स, और अन्य संबंधित भूमिकाओं में काम कर सकते हैं।

फायदे :-

1) जीएनएम जो कोर्स है यह बीएससी नर्सिंग कोर्स से कम अवधि वाला कोर्स होता है।

2) जीएनएम कोर्स में एडमिशन लेना बीएससी नर्सिंग की तुलना में आसान होता है।

What is GNM Course in Hindi – पुरी जानकारी

बीएससी नर्सिंग (बैचलर ऑफ साइंस इन नर्सिंग) :-

बीएससी नर्सिंग एक ग्रेजुएशन लेवल का कोर्स होता है।

पाठ्यक्रम की अवधि :-

बीएससी नर्सिंग कोर्स का अवधि 4 वर्ष का होता है।

पात्रता :-

बीएससी नर्सिंग कोर्स के लिए आप 12th क्लास पास होने चाहिए साइंस स्ट्रीम से और आपके 12th स्टैंडर्ड में फिजिक्स (Physics), केमिस्ट्री (Chemistry) और बायोलॉजी (Biology) सब्जेक्ट होना जरूरी होता है।

नौकरी प्रोफ़ाइल :-

बीएससी नर्सिंग के बाद, आप अस्पतालों, क्लीनिकों, अनुसंधान संस्थानों, और शैक्षणिक संस्थानों में स्टाफ नर्स, नर्स मैनेजर, नर्स एजुकेटर, और रिसर्चर के रूप में काम कर सकते हैं। बीएससी नर्सिंग के बाद उच्च शिक्षा के विकल्प भी उपलब्ध हैं, जैसे एमएससी नर्सिंग।

फायदे :-

1) बीएससी नर्सिंग यह एक ग्रेजुएशन लेवल का कोर्स होता है और इस कोर्स के बाद आप प्राइवेट सेक्टर में भी काम कर सकते हैं और अगर आप गवर्नमेंट सेक्टर में काम करना चाहते हैं तो बहुत से गवर्नमेंट सेक्टर में हर साल वैकेंसी निकलती है जिसके अंदर ग्रेजुएशन पास क्वालिफिकेशन मांगा गया होता है तो उन सभी वैकेंसी पर आप अप्लाई कर सकते हैं।

2) अगर आप ग्रेजुएशन के बाद आगे पढ़ाई करना चाहते हैं तो भी आप बीएससी नर्सिंग के बाद आगे पढ़ सकते हैं बहुत से कोर्सेज पोस्ट ग्रेजुएट पर होते हैं जैसे की एमएससी नर्सिंग, एमबीए हॉस्पिटल मैनेजमेंट में आप कर सकते हैं और इसके अलावा भी बहुत से कोर्सेज उपलब्ध हैं।

2 years Medical courses after 12th in Hindi

निष्कर्ष :-

GNM or BSC Nursing which is better in Hindi ?

हमने आपको दोनों ही कोर्सेज के बारे में सभी जानकारी इस आर्टिकल में दे दिया है हमने आपको दोनों ही कोर्सेज के फायदे के भी बारे में बताया है आपको आपके हिसाब से जो भी कोर्स सही लगता है उसको आप चुने। हम आपको बता दे कि दोनों ही कोर्स अपने-अपने स्थान पर महत्वपूर्ण हैं। और दोनों में से कोई भी कोर्स अगर आप करते हैं तो आप स्वास्थ्य सेवा क्षेत्र में महत्वपूर्ण योगदान देने का अवसर प्राप्त करेंगे।

How to Become OT Technician – In Hindi 2024

How To Become Dentist In Indian Army ( जानिए भारतीय सेना में डेंटिस्ट कैसे बनें ) 2024 ?

NIT Full Form in Hindi

Graphic Design Courses in Hindi

Join Us :-

Whatsapp Channel

Telegram Channel

For More Updates about Latest News in Hindi

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top
बाघ के बारे में कुछ हैरान करने वाले रोचक तथ्य.. बजाज ने निकाला दुनिया का सबसे पहले CNG मोटरसाइकिल Bajaj freedom 125 दुनिया की 10 सबसे पुरानी भाषाएँ Hathras satsang news India vs England : 2024 टी20 वर्ल्ड कप टूर्नामेंट Ravi Kishan के पास 36 करोड़ का नेटवर्क है, लेकिन फिर भी वह कर्ज में डूबे हुए हैं.. Sonakshi Sinha marriage – Marriage Date, Husband Name news in Hindi Kalki 2898 AD : Kalki Release Date KKR vs SRH inal Match 2024 Sunil Chhetri Retirement